हिंदी विषय में ग्रामर और उसके उच्चारण पर रखे ध्यान बोर्ड परीक्षा में

By | January 15, 2018

हर विद्यार्थियों के लिए हिंदी विषय एक कठिन विषय माना जाता है, पर अगर विद्यार्थी कुछ बातों का ध्यान रखें और घबराएं नहीं तो हिंदी का विषय मैं भी अच्छा हो सकता है|आप जाना चाह रहे होंगे कि हिंदी विषय की तैयारी कैसे करें क्योंकि अगर किसी भी प्रकार का डर आप की अच्छी तैयारी को भी बेकार कर सकती है| इसलिए विद्यार्थी को चाहिए कि पूरे सोच समझ एवं धैर्य के साथ परीक्षा दे | यहां हिंदी विषय के परीक्षा में शामिल होने वाले विद्यार्थियों के लिए

कुछ जरूरी टिप्स /जानकारी  हिंदी विषय के

हिंदी विषय की तैयारी में कितना समय दें

हर विद्यार्थी चाहता है कि वह सभी विषय में 90% से ज्यादा नंबर प्राप्त करें|ऐसा संभव भी है अगर विद्यार्थी हिंदी विषय को 2 घंटे का समय निरंतर दे |

अगर कोई विद्यार्थी पूरे लिटरेचर को नहीं पढ़ना चाहते हैं तो किसी अन्य विद्यार्थी आपस में तालमेल करके एक दूसरे के पार्ट के जानकारी हासिल कर सकते हैं |सभी विद्यार्थी परीक्षा में शामिल होने से पहले हिंदी का सभी बेसिक पाठ समझ लें और वह सभी का डाउट क्लियर कर ले| औपचारिक तथा अनौपचारिक पत्रों का लिखने की जानकारी प्राप्त कर लें और इसकी प्रैक्टिस / अभ्यास भी पहले से करें – लिखने की |

हिंदी को हल्के में ना लें

जैसा की हिंदी एक भारतीय भाषा है और इसमें हर विद्यार्थी उसको उतना महत्व नहीं देते हैं, जितना कि देना चाहिए | इसीका नतीजा होता है कि अच्छे-अच्छे विद्यार्थियों को हिंदी में कम नंबर आते हैं, क्योंकि विद्यार्थियों को बेसिक जानकारी की कमी रह जाती है हिंदी पाठ की|अधिकतर वह शब्दार्थ, व्याकरण में गलत करते हैं |इस कारण उनको कम नंबर प्राप्त होते हैं |

READ
Bihar Board 2017 Registration Card Download | BSEB 2016-18 Registration Card Download at srsec.bsebbihar.com

हिंदी का पूर्ण अभ्यास कितने बार करें

अगर विद्यार्थी एक बार पूरे हिंदी किताब एवं उससे जुड़ी व्याकरण आदि को ठीक से पढ़ चुके हैं तो उनको कम से कम 2 बार रिवाइज कर लेना अति आवश्य होता है | इससे उनके हर प्रकार की जो संका /असमंजस प्रश्न से जुड़ी होती है, वह सभी क्लियर हो जाती है और विद्यार्थियों को ज्यादा से ज्यादा लिखने की प्रैक्टिस करना चाहिए इससे उनकी लिखावट में सुधार के साथ उनकी अच्छी तैयारी भी हो जाती है|अच्छी तैयारी के लिए विद्यार्थी सैंपल पेपर के प्रश्नों को सॉल्व करके तैयारी कर सकते हैं ?

हिंदी विषय की परीक्षा की आखिरी घड़ी में क्या करें ?

परीक्षा के दौरान कुछ नया पढ़ाई ना करें क्योंकि यह सभी चीजें आपको कुछ आसंजक पैदा कर सकती है|अपने सहपाठियों से बात करें, पानी पीए और स्वस्थ भोजन ग्रहण करें |

प्रश्नों के उत्तर देने के दौरान ध्यान में क्या रखें

 जब भी आप किसी भी विषय की परीक्षा में शामिल होते हैं तो सबसे पहले एक व्याख्या करने वाले प्रश्नों का विकल्प होता है- तो पहले देख लें कि कौन से प्रश्नों का उत्तर आप सही तरीके से देख सकते उसी का उत्तर दें |अनसीन पैसेज को ध्यानपूर्वक पढ़ें और महत्वपूर्ण बिंदुओं को केंद्रित कर ले, चिन्हित कर व्याख्या करने वाले प्रश्नों का विकल्प होता है < पहले देख लें कि कौन से प्रश्नों का उत्तर आप सही तरीके से देख सकते उसी का उत्तर दें >

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *